Bharam Rakho Mohabbat Ka Wafa Ki Shaan Ban Jao, Kisi Par Jaan De Do Ya Kisi Ki Jaan Ban Jao, Tumhare Naam Se Mujhko Pukaare Yeh Jahan Wale, Main Ban Jayun Afsaana Aur Tum Unwaan Ban Jaao. भरम रखो मोहब्बत का वफ़ा की शान बन जाओ, किसी पर जान देदो या किसी की जान बन जाओ, तुम्हारे नाम से मुझको पुकारें ये जहाँ वाले मैं बन जाऊं अफसाना और तुम उन्वान बन जाओ।

Khud Nahi Jante Kitne Pyare Ho Aap, Jaan Ho Hamari Par Jaan Se Pyari Ho Aap, Duriyon Ke Hone Se Koi Fark Nahi Padta, Kal Bhi Hamare The Aur Aaj Bhi Hamari Ho Aap. खुद नहीं जानते कितनी प्यारे हो आप, जान हो हमारी पर जान से प्यारे हो आप, दूरियों के होने से कोई फर्क नही पड़ता, कल भी हमारे थे और आज भी हमारे हो आप।

Tere Seene Se Lagkar Teri Aarzoo Ban Jaun, Teri Saanso Se Milkar Teri Khushbu Ban Jaun, Faasle Na Rahein Koi Tere Mere Darmiyan, Main... Main Na Rahun Bas Tu Hi Tu Ban Jaun. तेरे सीने से लगकर तेरी आरजू बन जाऊँ, तेरी साँसो से मिलकर तेरी खुश्बू बन जाऊँ, फासले ना रहें कोई तेरे मेरे दरमिआँ, मैं...मैं ना रहूँ बस तू ही तू बन जाऊँ।

Badalna Nahi Aata Humein Mausam Ki Tarah, Har Ek Rut Mein Tera Intezaar Karte Hain, Na Tum Samjh Sakoge Jise Qayaamat Tak, Kasam Tumhari Tumhein Itna Pyaar Karte Hain. बदलना आता नहीं हमें मौसम की तरह, हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं, ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक, कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं।

Sangmarmar Ke Mahal Mein Teri Tasveer Sajauga, Mere Iss Dil Mein Aye Sanam Tere Khwab Sajaunga, Aajma Ke Dekh Le Tere Dil Mein Bas Jaunga, Pyar Ka Pyasa Hun Tere Aagosh Mein Simat Jaunga. संगमरमर के महल में तेरी तस्वीर सजाऊंगा, मेरे इस दिल में ऐ सनम तेरे ख्वाब सजाऊंगा, आजमा के देख ले तेरे दिल में बस जाऊंगा, प्यार का हूँ प्यासा तेरे आगोश में सिमट जाऊॅंगा।