Khil-Khilati Subah, Tazagi Bhara Savera Hai, Phool-Baharon Ne Aapke Liye Rang Bikhera Hai, Subah Kah Rahi Hai Ab Jaag Jaao Dost, Aapki Muskurahat Ke Bina Sab Adhura Hai. Good Morning! खिलखिलाती सुबह, ताज़गी भरा सवेरा है, फूलों बहारों ने आपके लिए रंग बिखेरा है, सुबह कह रही है अब जाग जाओ दोस्त, आपकी मुस्कुराहट के बिना सब अधूरा है। सुप्रभात!

मिले वो सबकुछ जिसकी आपको तलाश हो, हर सुबह के साथ एक नया एहसास हो, जीवन का हर लम्हा पसंद आये आपको, आपकी हर पल खुशिओं से मुलाकात हो। सुप्रभात। Mile Wo Sab Kuchh Jiski AapKo Talash Ho, Har Subah Ke Saath Ek Naya Ehsaas Ho, Zindagi Ka Har Lamha Pasand Aaye Apko, Aapki Har Pal Khushiyo Se Mulakat Ho. Good Morning.

सुबह की हल्की धूप कुछ याद दिलाती है, हर महकती खुशबू एक जादू सा जगाती है, कितनी भी व्यस्त क्यों ना हो यह ज़िन्दगी, सुबह-सुबह अपनों की याद आ ही जाती है। Subah Ki Halki Si Dhoop Kuchh Yaad Dilati Hai, Har Mehekti Khushboo Ek Jadoo Sa Jagaati Hai, Kitni Bhi Vyast Kyun Na Ho Yeh Zindagi, Subah-Subah Apno Ki Yaad Aa Hi Jati Hai.

उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको, खिलता हुआ फूल खुशबू दे आपको, हम तो कुछ देने के काबिल नहीं है, देने वाला हजार खुशियाँ दे आपको। सुप्रभात। Ugta Hua Sooraj Duaa De Aapko, Khilta Hua Phool Khushboo De Aapko, Hum To Kuchh Dene Ke Kabil Nahi Hain, Dene Wala Hajaar Khushiyan De Aapko. Good Morning.

रात गुजरी और महकती सुबह आई, दिल धड़का फिर आपकी याद आई, हमने महसूस किया उस हवा को, जो आपको छूकर हमारे पास आई। सुप्रभात। Raat Gujri Aur Mahekti Subah Aayi, Dil Dhadka Fir Aapki Yaad Aayi, Hum Ne Mehsoos Kiya Uss Hawa Ko, Jo Aapko Chhookar Humare Paas Aayi. Good Morning.