जब कभी धोखा मिल जाता है प्यार में, जिंदगी में एक उदासी छा जाती है, सोचते हैं छोड़ देंगे इस ज़ालिम दुनिया को, पर तब तक दूसरी पसंद आ जाती है। Jab Kabhi Dhokha Mil Jata Hai Pyar Mein, Zindgi Mein Ek Udaasi Chha Jati Hai, Sochte Hain Chhod Denge Iss Zalim Duniya Ko, Par Tab Tak Doosari Pasand Aa Jati Hai.

Ek Boond Se Kabhi Saagar Nahi Banta, Raat Din Rone Se Muqaddar Nahin Banta, Patana Hai To Poora Girls Hostel Pataao, Ek Ladki Pataa Kar Koi Sikandar Nahin Banta. एक बूँद से कभी सागर नहीं बनता, रात दिन रोने से मुक़द्दर नहीं बनता, पटाना है तो पूरा गर्ल्स-होस्टल पटाओ, एक लड़की पटाने कर कोई सिकंदर नहीं बनता!!

मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़, कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी। Mera Dost Mujhse Ye Keh Kar Dur Chala Gaya Faraz, Ke Dosti Dur Ki Achhi Roti Tandoor Ki Achhi.

जरा सी देर के लिए चारपाई पे लेटे थे फ़राज़, मगर किसी उल्लू के पट्ठे ने जनाजा पढ़ दिया। Jara Si Der Ke Liye Chaarpai Pe Lete The Faraz, Magar Kisi Ullu Ke Patthe Ne Janaza Parh Diya.

मेरी ख़ुशी के लम्हें किस कदर मुख़्तसर हैं फ़राज़, अभी मुजरा शुरू ही हुआ था कि छापा पड़ गया। Meri Khushi Ke Lamhe Kis Kadar Mukhtasar Hain Faraz, Abhi Mujra Shuru Hi Hua Tha Ke Chhaapa Pad Gaya.