गलतियों से जुदा तू भी नहीं और मैं भी नहीं, दोनों इंसान हैं ख़ुदा तू भी नहीं मैं भी नहीं, गलतफहमियों ने कर दी दोनों में पैदा दूरियाँ, वरना फितरत का बुरा तू भी नहीं मैं भी नहीं। Galtiyon Se Juda Tu Bhi Nahi Aur Main Bhi Nahi, Dono Insaan Hain Khuda Tu Bhi Nahi Main Bhi Nahi, GalatFehmiyon Ne Kar Di Dono Mein Paida Doorian, Varna Fitrat Ka Bura Tu Bhi Nahi Main Bhi Nahi.

कभी हम मिले तो भी क्या मिले वही दूरियाँ वही फ़ासले, न कभी हमारे कदम बढ़े न कभी तुम्हारी झिझक गई। Kabhi Hum Mile To Bhi Kya Mile Wahi Dooriyan Wahi Fasle, Na Kabhi Humare Kadam Barhe Na Kabhi Tumhari Jhijhak Gayi.

दूरिओं से रिश्तों में फर्क नहीं पड़ता, बात तो दिल की नजदीकियों की होती है, पास रहने से भी रिश्ते नहीं बन पाते, वरना मुलाकात तो रोज कितनों से होती है। Dooriyon Se Rishton Mein Fark Nahi Padta, Baat To Dil Ki Najdeekiyon Ki Hoti Hai, Paas Rehne Se Bhi Rishte Nahi Ban Paate, Varna Mulakaat To RoJ Kitno Se Hoti Hain.

मिलना इत्तेफाक था बिछड़ना नसीब था, वो उतना ही दूर चला गया जितना करीब था, हम उसको देखने के लिए तरसते रहे, जिस शख्स की हथेली पे हमारा नसीब था। Milna Ittefak Tha Bichhadna Naseeb Tha, Wo Utna Hi Door Chala Gaya Jitna Kareeb Tha, Hum Usko Dekhne Ke Liye Taraste Rahe. Jis Shakhs Ki Hatheli Pe Humara Naseeb Tha.

दूरियाँ बहुत हैं पर इतना समझ लो, पास रहकर कोई रिश्ता ख़ास नहीं होता, तुम मेरे दिल के इतने करीब हो कि, मुझे दूरिओं का एहसास नहीं होता। Dooriyan Bahut Hain Par itna Samajh Lo, Paas Rehkar Koyi Rishta Khas Nahi Hota, Tum Mere Dil Ke Itne Kareeb Ho Ki, Mujhe Dooriyon Ka Ehsaas Nahi Hota.