दर्द बहुत हुआ दिल के टूट जाने से, कुछ न मिला उसके लिए आँसू बहाने से, वो जानता था वजह मेरे दर्द की, फिर भी बाज न आया मुझे आजमाने से। Dard Bahut Hua Dil Ke Toot Jane Se, Kuchh Na Mila Uske Liye Aansoo Bahaane Se, Woh Jaanta Tha Wajah Mere Dard Ki, Fir Bhi Baaz Na Aaya Mujhe Aazmane Se.

दुनिया से अपना हर दर्द छुपा लेना, ख़ुशी न मिले तो गम गले लगा लेना, कोई अगर कहे मोहब्बत आसान होती है, तो उसे मेरा टूटा हुआ दिल दिखा देना। Duniya Se Apna Har Dard Chhupa Lena, Khushi Na Mile To Gham Gale Laga Lena, Koi Agar Kahe Mohabbat Aasaan Hoti Hai, To Use Mera Toota Hua Dil Dikha Dena.

कुछ मोहब्बत का नशा था पहले हमको, दिल जो टूटा तो नशे से मोहब्बत हो गई। Kuchh Mohabbat Ka Nasha Tha Pehle Hum Ko, Dil Jo Toota To Nashe Se Mohabbat Ho Gayi.

अंदर कोई झाँके तो टुकड़ों में मिलूंगा, ये हँसता हुआ चेहरा तो ज़माने के लिए है। Andar Koyi Jhanke To Tukdo Mein Milunga, Ye Hansta Hua Chehra To Zamane Ke Liye Hai.

तेरे वादों ने हमें घर से निकलने न दिया, लोग मौसम का मज़ा ले गए बरसातों में, अब न सूरज, न सितारे, न शमा, न चांद, अपने ज़ख्मों का उजाला है घनी रातों में। Tere Vaado Ne Humein Ghar Se Nikalne Na Diya, Log Mausam Ka Mazaa Le Gaye Barsaaton Mein, Ab Na Sooraj, Na Sitare, Na Shama, Na Chaand, Apne Zakhmo Ka Ujala Hai Ghani Raaton Mein.