फिर कहीं दूर से एक बार सदा दे मुझको, मेरी तन्हाई का एहसास दिला दे मुझको, तू तो चाँद हो तुझे मेरी ज़रुरत क्या है, मैं दिया हूँ किसी चौखट पे जला दे मुझको। Fir Kahin Door Se Ek Baar Sadaa De Mujhko, Meri Tanhaai Ka Ehsaas Dila De Mujhko, Tu To Chaand Hai Tujhe Meri Jarurat Kya Hai, Main Diya Hoon Kisi Chaukhat Pe Jala De Mujhko.

तू नहीं तो ये नजारा भी बुरा लगता है, चाँद के पास सितारा भी बुरा लगता है, ला के जिस रोज छोड़ा है तूने भंवर में मुझे, मुझे दरिया का किनारा भी बुरा लगता है। Tu Nahi To Ye Najara Bhi Bura Lagta Hai, Chaand Ke Paas Sitara Bhi Bura Lagta Hai, La Ke Jis Roj Chhoda Hai Tu Ne Bhanwar Mein, Mujhe Dariya Ka Kinara Bhi Bura Lagta Hai.

एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम, दूसरे ही पल ख्वाब बनकर उड़ जाते हो तुम, जानते हो की लगता है डर तन्हाइयों से, फिर भी बार-बार तन्हा छोड़ जाते हो तुम। Ek Pal Ka Ehsaas Bankar Aate Ho Tum, Dusre Hi Pal Khwab Bankar Urh Jate Ho Tum, Tum Jaante Ho Ki Lagta Hai Dar Tanhaiyon Se, Phir Bhi Baar Baar Tanha Chhod Jate Ho Tum.

तन्हाई की रात कट ही जाएगी इतने भी हम मजबूर नहीं, दोहरा कर तेरी बातों को कभी रो लेंगे कभी हँस लेंगे। Tanhaai Ki Raat Kat Hi Jayegi Itne Bhi Hum Majboor Nahi, Dohra Kar Teri Baaton Ko Kabhi Ro Lenge Kabhi Hans Lenge.

मेरी यादें मेरा चेहरा मेरी बातें रुलायेंगी, हिज़्र के दौर में गुज़री मुलाकातें रुलायेंगी, दिनों को तो चलो तुम काट भी लोगे फसानों में, जहाँ तन्हा मिलोगे तुम तुम्हें रातें रुलायेंगी। Meri Yaadein Mera Chehra Meri Baatein Rulayengi, Hijr Ke Daur Mein Gujri Mulakatein Rulayengi, Dino Ko To Chalo Tum Kaat Bhi Loge Fasaano Mein, Jahan Tanha Miloge Tum Tumhein Raatein Rulayengi.